Home ट्रेंडिंग Virbhadra Singh Age, Family, Son, Biography In Hindi
virbhadra singh biography in hindi

Virbhadra Singh Age, Family, Son, Biography In Hindi

by Umeeka

वीरभद्र सिंह जी हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री तथा कांग्रेस के वरिष्ठ नेता थे। वे ८७ साल के थे। वह ६ बार हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री थे। वे ८ बार विधायक और ५ बार लोकसभा में सांसद रह चुके थे। मनमोहन सिंह जी के नेतृत्व में २८ मई २००९ को इस्पात मंत्री बनाये गए थे। राजनीति के अलावा वे संस्कृत साहित्य सम्मेलन के अध्यक्ष भी थे। आज हम इस लेख में Virbhadra Singh Biography देखने वाले है।

वीरभद्र सिंह जी की जीवनी

वीरभद्र सिंह जी का जन्म २३ जून १९३४ सराहन, शिमला, हिमाचल प्रदेश में हुआ था। उनका शिक्षण B.A. (Hounours) , M.A. St. Stephen’s College, Delhi में हुआ था। शालेय शिक्षण Bishop Cotton School, shimla से हुआ था। पत्नी का नाम श्रीमती प्रतिभा सिंह है। उनके १ बेटा और ४ बेटियाँ है।

करियर

  • वीरभद्र सिंह १९६२ में तीसरी लोकसभा के लिए चुने गए थे।
  • वीरभद्र सिंह जी १९६७ में चौथी लोकसभा के लिए चुने गए थे।
  • वीरभद्र सिंह जी १९७२ में पांचवी लोकसभा के लिए चुने गए थे।
  • १९७६ में संयुक्त राष्ट्र महासभा के लिए भारतीय प्रतिनिधिमंडल के सदस्य थे।
  • वीरभद्र सिंह जी दिसम्बर १९७६ से मार्च १९७७ तक भारत सरकार में पर्यटन और नागरिक उड्डयन के उपमंत्री रह चुके थे ।
  • १९७७ से १९८० तक प्रदेश कांग्रेस समिति के अध्यक्ष थे।
  • वीरभद्र सिंह १९८० में सातवीं लोकसभा के लिए चुने गए थे।
  • १९८२ से १९८३ तक भारत सरकार में उद्योग मंत्री थे।
  • अक्टूबर १९८३ और १९८५ में कोटखाई विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से राज्य विधानसभा के लिए चुने गए थे।
  • वीरभद्र सिंह जी १९९०, १९९३, १९९८, २००३ और २००७ में रोहड़ू निर्वाचन क्षेत्र से राज्य विधानसभा के लिए चुने गए थे।
  • ८ अप्रैल १९८३ से मार्च, ५ मार्च १९९० तक हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री थे।
  • दिसंबर १९९३ से २३ मार्च १९९८ तक हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री थे।
  • फिर से ६ मार्च २००३ से २९ दिसम्बर २००७ तक हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री थे।
  • २००९ में वीरभद्र सिंह जी मंडी संसदीय निर्वाचन क्षेत्र से हिमाचल प्रदेश से निर्वाचित हुए।
  • मई २००९ से जनवरी २०११ तक इस्पात मंत्री थे।
  • १९ जनवरी २०११ से जून २०१२ तक भारत सरकार में लघु और मझौले उद्यम मंत्री थे।
  • २६ अगस्त २०१२ से हिमाचल प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष रहे है।
  • वीरभद्र सिंह जी शिमला ग्रामीण निर्वाचन क्षेत्र से २० दिसम्बर २०१२ को राज्य विधान सभा के सदस्य चुने गए थे।
  • वीरभद्र सिंह जी २५ वें दिसम्बर, २०१२ को हिमाचल प्रदेश के छठे मुख्य मंत्री बने।

निधन

वीरभद्र सिंह जी पिछले कुछ दिनों से बीमार थे। उन्हें दिल का दौरा पड़ने के वजह से आईजीएमसी अस्पताल में भर्ती किया गया था। उनका निधन मल्टी ऑर्गन फेलियर के कारण गुरुवार ८ जुलाई २०२१ को सुबह ४ बजे हुआ, यह आईजीएमसी के वरिष्ठ चिकित्सा अधीक्षक डॉ. जनक राज जी ने ANI न्यूज़ एजेंसी को बताया।

इस लेख में दी गयी इनफार्मेशन विकिपीडिया, और इंटरनेट पर उपलब्ध न्यूज़ सोर्सेज के आधार पर दी गयी है। इस लेख पर आपके कुछ सुझाव हो तो हमें [email protected] पर लिखे।

Related Posts

Leave a Comment